समाचार
चीन ने बदले की कार्रवाई कर अमेरिका को चेंगदू का वाणिज्य दूतावास बंद करने को कहा
आईएएनएस - 24th July 2020

चीन के विदेश मंत्रालय ने शुक्रवार (24 जुलाई) को चेंगदू में स्थित अमेरिकी वाण‍िज्‍य दूतावास को बंद कर उसके स्थापना और संचालन के लिए अपनी सहमति वापस लेने की जानकारी दी। उसने यह कदम अमेरिका के उस आदेश के खिलाफ बदले के रूप में उठाया है, जिसमें उसने चीन से अपने टेक्सास राज्य के शहर ह्यूस्टन में वाणिज्य-दूतावास बंद करने को कहा था।

सिन्हुआ समाचार एजेंसी के अनुसार, बयान में मंत्रालय ने अमेरिका के वाणिज्य दूतावास द्वारा सभी परिचालन और कामकाज को बंद करने की विशेष ज़रूरत बताई है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन ने मंगलवार को चीन के वाणिज्य दूतावास के लिए कहा था कि वह बौद्धिक संपदा चोरी करने में शामिल था।

मंत्रालय ने अपने बयान में आगे कहा, “चीन-अमेरिका संबंधों की मौजूदा स्थिति वह नहीं है, जो हम देखना चाहते हैं। इन सबके लिए अमेरिका ज़िम्मेदार है। हम एक बार फिर उससे आग्रह करते हैं कि वह अपने गलत फैसले को तुरंत वापस ले और द्विपक्षीय संबंधों को पटरी पर लाने के लिए जरूरी शर्तें बनाए।”

मंगलवार को ट्रम्प प्रशासन ने अमेरिका की बौद्धिक संपदा और निजी जानकारियों की रक्षा के लिए चीन के वाणिज्य दूतावास को बंद करने का 72 घंटे का समय दिया था। इस घोषणा से पहले न्यूयॉर्क पोस्ट की एक रिपोर्ट में कहा गया था कि ह्यूस्टन पुलिस को जानकारी मिली थी कि चीनी अधिकारी मंगलवार शाम को वाणिज्य दूतावास में दस्तावेज जला रहे थे।

एक समाचार रिपोर्टर के वीडियो में वाणिज्य दूतावास के प्रांगण में कई लोगों को जले हुए कई दस्तावेजों वाले कूड़े के डिब्बे दिखाई दिए। न्यूयॉर्क पोस्ट ने कहा कि ह्यूस्टन अग्निशामक और पुलिस चीन के वाणिज्य दूतावास कार्यालय में आग लगने की घटना को रोकने के लिए आना चाहती थी लेकिन इमारत में जाने का उसके पास अधिकार नहीं था।