समाचार
रामपुर- सीएए विरोध में हिंसा कर संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वाले 28 को समन जारी

उत्तर प्रदेश के जिन जिलों में जहाँ नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए थे, उनमें से रामपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश का पालन करने वाला प्रदेश का पहला जिला बनने जा रहा है।

दरअसल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ दिन पहले आदेश दिया था कि हिंसक प्रदर्शन के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुँचाने वालों की संपत्ति संलग्नित करके नुकसान की भरपाई की जाएगी और अब रामपुर जिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का यह आदेश लागू भी हो रहा है।

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार जिला प्रशासन ने मंगलवार (24 दिसंबर) को 28 व्यक्तियों को समन जारी किया है, जिनमें से कई पहले से ही पुलिस की हिरासत में हैं। समन के जरिए प्रशासन ने इन 28 लोगों से स्पष्टीकरण मांगा है कि 14.86 लाख रुपये के नुकसान के लिए उनसे वसूली क्यों नहीं की जाए।

गौरतलब है कि पुलिस ने इन 28 आरोपियों के खिलाफ पहले ही सबूत पेश कर दिए हैं जिनसे वसूली प्रक्रिया की शुरुआत एक सप्ताह के बाद की जाएगी, जब तक कि वे या उनका परिवार इस मामले में उनकी गलत तरीके से गिरफ्तारी की बात के समर्थन में कोई सबूत प्रस्तुत नहीं करते।

पुलिस द्वारा प्रस्तुत किए गए सबूतों में घटना वाली जगहों पर मौजूद सीसीटीवी कैमरों की फुटेज और साथ ही स्थानीय निवासियों और मीडिया हाउस द्वारा ली गईं तस्वीरें और वीडियो क्लिप भी शामिल हैं।