समाचार
इमरान खान ने पाक संसद में बहुमत हासिल किया पर समर्थकों ने बाहर विपक्षियों को पीटा

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने शनिवार (6 मार्च) को राष्ट्रीय सभा में बहुमत हासिल कर लिया। अविश्वास प्रस्ताव को लेकर संसद में हुई वोटिंग में उनके पक्ष में 170 की अपेक्षा 178 वोट पड़े।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, एक तरफ इमरान खान की सरकार को लेकर मतदान हो रहा था। दूसरी तरफ, विपक्ष के सांसद संसद के बाहर हंगामा कर रहे थे। विश्वास प्रस्ताव को लेकर हो रहे मतदान का विरोध कर रहे नेताओं पर जूते फेंके गए। यही नहीं, मुस्लिम लीग की नेता मरियम नवाज़ को इमरान खान के समर्थकों ने लात-घूसों से पीटा भी।

संसद में विश्वास मत परीक्षण का विपक्ष ने बहिष्कार किया था। इसके बाद विपक्ष को 5 मिनट का समय दिया गया लेकिन वे नहीं आए। विदेश मंत्री महमूद कुरैशी ने संसद में विश्वास प्रस्ताव पेश किया। मतों की गणना के बाद इमरान खान के साथ 176 सदस्यों का साथ था, जो बढ़कर 178 हो गया।

विपक्ष के नेता रहमान ने दावा किया कि राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने जो सत्र बुलाया है, उसका मतलब है कि इमरान खान ने बहुमत का विश्वास खो दिया है इसलिए उन्हें विश्वास मत हासिल करने की आवश्यकता पड़ी। इस सत्र का कोई राजनीतिक महत्व नहीं होगा। उनकी सरकार देश की प्रतिनिधि सरकार नहीं मानी जाएगी।

बता दें कि हाल ही में हुए सीनेट चुनाव में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के उम्मीदवार सैयद यूसुफ रज़ा गिलानी ने वित्त मंत्री अब्दुल हफीज़ शेख को हरा दिया था। यह इमरान सरकार के लिए बड़ा झटका था क्योंकि उनकी पार्टी और उसके सहयोगी राष्ट्रीय सभा में बहुमत में हैं। इसका अर्थ निकला कि कुछ सदस्यों ने उनके पक्ष में वोट ही नहीं किया।