समाचार
जैश-ए-मोहम्मद के हमले के बाद इमरान खान को चाहिए पाकिस्तान संबंध का ‘साक्ष्य’

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने मंगलवार (19 फरवरी) को पुलवामा हमले पर आखिरकार अपना बयान जारी किया और पाकिस्तान को बचाते हुए उन्होंने कहा कि भारत बिना किसी सबूत के पाकिस्तान पर इल्ज़ाम लगा रहा है और भारत के इस व्यवहार को वे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। “अगर भारत पाकिस्तान के खिलाफ कोई भी सबूत ला कर पेश करेगा तो पाकिस्तान उसपर कार्यवाही ज़रूर करेगा।”, इमरान खान ने कहा।

पाकिस्तान का इस घटना से कोई संबंध नहीं बताते हुए उन्होंने कहा, “भारत पर हमला करके पाकिस्तान को किसी भी प्रकार का कोई भी लाभ नहीं होगा।” उन्होंने कहा कि युद्ध विकल्प नहीं है और वार्ता से मामला सुलझाया जाना चाहिए। लेकिन साथ ही अपना पक्ष स्पष्ट करते हुए उन्होंने कहा, “अगर भारत पाकिस्तान पर हमला करेगा तो पाकिस्तान भी उसका करारा जवाब देगा।”

14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद इमरान खान ने अब तक अपना बयान नहीं दिया था उनका कहना है कि सऊदी के क्राउन प्रिंस के पाकिस्तानी दौरे कि वजह से वह इस हमले पर कुछ भी टिप्पणी नहीं दे रहे थे लेकिन अब जब उनका पाकिस्तानी दौरा खत्म हो गया है तो इमरान खान ने अपना बयान जारी किया है।