समाचार
तवज्जो नहीं मिली तो इमरान खान ने यूएन में स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी को हटाया

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) में पाकिस्तान को तवज्जो न मिलने की वजह से पाकिस्तान ने यूएन में अपनी स्थाई प्रतिनिधि मलीहा लोधी को हटाने की घोषणा कर दी। प्रधानमंत्री इमरान खान के अमेरिका यात्रा से वापस देश लौटने के बाद यह कदम उठाया गया।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार को पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने इस संबंध में आधिकारिक घोषणा की थी। जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को समाप्त करने को लेकर यूएन में इमरान खान ने भारत के खिलाफ भड़काऊ भाषण दिया था लेकिन उन्हें किसी ने तवज्जो नहीं दी। इसके बाद वापस देश लौटने पर उन्होंने कई बड़े फेरबदल कर दिए।

अब मलीहा की जगह मुनीर अकरम को यूएन प्रतिनिध के तौर पर चुना गया है। माना जा रहा है कि मलीहा लोधी यूएन में पाकिस्तान के पक्ष में माहौल बनाने में सफल नहीं हुईं। इसी वजह से उन्हें इस ज़िम्मेदारी से हटा दिया गया।

मलीहा लोधी फरवरी 2015 से संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान की स्थाई प्रतिनिधि थीं। हालाँकि, उनकी जगह पर आने वाले अकरम को 6 साल यूएन में स्थाई प्रतिनिधि होने का अनुभव प्राप्त है। इसके अलावा, मलीहा ने बीते दिनों कई बड़ी गलतियाँ की थीं, जिसकी वजह से पाकिस्तान की काफी किरकिरी हुई थी।

उन्होंने इमरान खान की अमेरिका यात्रा के दौरान ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को विदेश मंत्री बता दिया था। यही नहीं, उन्होंने कश्मीरी लोगों पर अत्याचार के नाम पर एक फिलिस्तीनी लड़की को कश्मीरी बता दिया था। बाद में जब असलियत सामने आई तो उनकी जमकर आलोचना हुई थी।