समाचार
“कभी भीख नहीं माँगेंगे” कहने वाले इमरान खान ने फिर फैलाए हाथ, मिले 3 अरब डॉलर

पाकिस्तान की गिरती अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए सोमवार (24 जून) को क़तर ने इस्लामाबाद को 3 अरब डॉलर की खैरात देने का निर्णय लिया है। क़तर के विदेश मंत्री शेख मोहम्मद बिन अब्दुलरहमान अल थानी ने यह घोषणा की, लाइवमिंट  ने रिपोर्ट किया।

इस निर्णय के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान के वित्तीय सलाहकार डॉ अब्दुल हाफीज़ शेख ने क़तर के प्रति आार व्यक्त किया।हालाँकि पाकिस्तान के वित्त मंत्रालय ने इस राशि का प्रयोग किसके लिए किया जाएगा यह साफ नहीं किया है। इससे यह स्पष्ट नहीं है कि देश के घटते कोष को संभालने के लिए स्टेट बैंक ऑफ़ पाकिस्तान को कितनी राशि मिलेगी।

पाकिस्तान की गिरती अर्थव्यवस्था के बीच पिछले 11 माहों में इस्लामाबाद को चौथी बार खैरात मिली है। चीन ने 4.6 अरब डॉलर, सऊदी अरब ने 3 अरब डॉलर राशि जमा और 3.2 अरब डॉलर की तेल खरीद के स्थगित भुगतान के रूप में दिए। यूनाइटेड अरब एमिराट्स ने 2 अरब डॉलर की नकदी दी थी।

एक तरफ जहाँ पाकिस्तान को लगातार खैरात मिलती जा रही है, वहीं देश के प्रधानमंत्री ने उनके पहले भाषण में कहा था कि वे सहायता के लिए किसीसे ऋण की भीख नहीं माँगेंगे।