समाचार
श्रीलंका बम धमाकों के बाद कोलंबो एयरपोर्ट पर भी मिला बम, हमलावार पहचाने गए

श्रीलंका के तीन शहरों में सिलसिलेवार धमाकों के बाद पुलिस का कहना है कि उन्हें कोलंबो हवाई अड्डे पर एक पाइप बम मिला है। एयरफोर्स ने बम को निकालकर निष्क्रिय कर दिया है। एक पुलिस सूत्र ने एएफपी  को बताया कि देर रात एक होममेड पाइप बल मुख्य टर्मिनल की ओर जाने वाली सड़क पर मिला था, जो चर्च और होटलों पर घातक हमलों के बाद भारी सुरक्षा के साथ खुला रहता है।

मीडिया रिपोर्टों से ईस्टर उत्सव के मौके पर किए गए हमलों में 35 विदेशियों सहित 290 लोगों के मारे जाने की खबर आ रही है, जबकि 500 से ज्यादा लोग घायल हुए। यह संख्या बढ़ने की आशंका है।

हमले दर्शाते हैं कि इसमें विशेष समुदाय को निशाना बनाया गया था। श्रीलंका की 22 मिलियन आबादी में से 7.6 प्रतिशत लोग ईसाई समुदाए के हैं। हालांकि, हमले के पीछे का मकसद अभी साफ नहीं हुआ है। किसी आतंकी संगठन ने इसकी जिम्मेदारी नहीं ली है।

पहला धमाका कोलंबो के कोकसीकेड के सेंट एंथनी चर्च, दूसरा निगंबो शहर के सेबेस्टियन चर्च, तीसरा बट्टिकलोआ के सिद्धओल चर्च में हुआ। कोलंबो के तीन पांच सितारा होटलों में हुए आत्मघाती हमलों में शंगरीला, द सिनेमन ग्रैंड और द किंग्सबरी शामिल थे।

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार, आत्मघाती हमलावरों ने कम से कम दो ब्लास्ट किए। शंगरीला और बट्टिकलोआ चर्च में आत्मघाती हमलावरों पर हमला किया गया था। दो हमलावरों की पहचान जहरान हाशिम और अबू मोहम्मद के रूप में की गई है। श्रीलंकाई प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने पीड़ितों की मदद के लिए 200 सैनिकों को तैनात कर दिया है। साथ ही उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने और अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील की है।