समाचार
आईसीएमआर- देशभर के 35 निजी परीक्षण केंद्रों को कोविड-19 परीक्षण की स्वीकृति

कोरोनावायरस के संदिग्ध अब निजी परीक्षण केंद्र में भी अपनी जाँच करवा सकेंगे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने देशभर में 35 प्राइवेट लैब्‍स को कोविड-19 परीक्षण की स्वीकृति दे दी है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, आइसीएमआर में महामारी एवं संचारी रोग के प्रमुख आर गंगाखेड़कर ने पहले ही बता दिया था कि सरकार द्वारा उठाए गए कदम इतने प्रभावी और सख्त हैं कि कोरोना वायरस के मामले देश में मुश्किल से बढ़ेंगे। हालाँकि, जल्‍द ही इसका परीक्षण प्राइवेट लैब में करवाने की अनुमति दी जाएगी।

देश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्‍या 700 के पार पहुँच गई है। ज्यादा से ज्यादा लोगों के परीक्षण की ज़रूरत को देखते हुए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने 17 मार्च को निजी लैब्स को कोरोना की जाँच करने की अनुमति देने का फैसला किया था।

मंत्रालय के अधिकारी ने बताया, “अभी सिर्फ सरकारी लैब को ही वायरस की जाँच करने की अनुमति है लेकिन निजी लैब को इसकी अनुमति देकर जाँच के कार्य में दोगुनी तेजी लाने की कोशिश की जा रही है।”

भारत में जिन प्राइवेट लैब्‍स को कोरोना वायरस की जाँच की अनुमति दी गई हैं, उनमें महाराष्‍ट्र में 9, दिल्‍ली में 6, गुजरात में 4, हरियाणा में 3, कर्नाटक में 2, ओडिशा में एक, तमिलनाडु में 4, तेलंगाना में 5 और पश्चिम बंगाल की एक लैब शामिल है।