समाचार
मुन मुन सेन हार से बुरी तरह निराश, कहा- ‘अब कभी लौटकर आसनसोल नहीं आऊँगी’

तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर आसनसोल लोकसभा सीट से चुनाव लड़ी फिल्म अभिनेत्री मुन मुन सेन भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो से हारने के बाद बेहद दुखी हैं। अब उन्होंने घोषणा की है कि वह कभी अपने निर्वाचन क्षेत्र में वापस कदम नहीं रखेंगी।

एबीपी आनंद की रिपोर्ट के अनुसार, मुन मुन  सेन ने पत्रकारों से कहा, “मतगणना के बाद आए परिणामों से मैं बहुत दुखी हूँ। मुझे नहीं लग रहा था कि आसनसोल से बाबुल सुप्रियो विजेता बनेगा।” मीडिया की मौजूदगी में उन्होंने अपने एक सहयोगी से कहा, “मैं अच्छे के लिए यहाँ से जा रही हूँ और कभी लौटकर नहीं आऊँगी।”

अपनी हार के कारणों के बारे में उन्होंने कहा, “जिस तरह के परिणाम आए हैं, उन्हें मैं समझने में असमर्थ हूँ लेकिन अब मैंने स्वीकार कर लिया है कि यहाँ के मतदाता भी यही चाहते हैं।”

बाद में कार में बैठने के दौरान उन्होंने फिर से कभी अपने आसनमोल न आने की प्रतिबद्धता को दोहराया। उन्होंने अपने सहयोगी को भी आदेश दिया कि वह पत्रकारों को उनकी कार से दूर करे।

बाबुल सुप्रियो फिर से अपनी लोकसभा सीट को जीतकर वर्चस्व कायम करने में सफल रहे। उन्होंने मुन मुन सेन को करीब दो लाख वोटों के अंतर से पराजित किया है। चुनाव के दौरान तृणमूल कांग्रेस की यह उम्मीदवार कई बार विवादों में भी रही थी। उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं पर हुए हमले की जानकारी न होने का बहाना बनाया था। यही नहीं, उन्होंने एक टीवी शो एंकर को कठिन सवाल पूछने के जवाब में गालियाँ भी दी थीं।