समाचार
हिजबुल मुजाहिदीन का आतंकी तारिक संगठन में शामिल होने के 20 दिन बाद गिरफ्तार

जम्मू-कश्मीर की किश्तवाड़ पुलिस और सुरक्षाबलों ने इखवाल के जंगलों से एक आतंकी को गिरफ्तार किया। उसकी पहचान डच्चन निवासी तारिक हुसैन, पुत्र मोहम्मद अमीन के रूप में हुई है। वह 20 दिन पूर्व ही आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, आतंकी को गिरफ्तार करने से पहले उसकी पुलिस-सुरक्षाबल के साथ मुठभेड़ हुई थी। इस दौरान उसकी दाईं टांग में गोली लग गई और वह घायल हो गया। पुलिस पकड़कर उससे गहन पूछताछ कर रही है। संभावना जताई जा रही है कि उससे हिजबुल मुजाहिदीन से संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारियाँ मिलेंगी।

सेना के सूत्रों के अनुसार, 14 नवंबर से डच्चन से लापता बढ़ई तारिक हुसैन जहांगीर से मिल गया है, जो मुजाहिद्दीन से जुड़ा है। आतंकी संगठन से ट्रेनिंग लेकर वह हथियारों के साथ वापस किश्तवाड़ा आ रहा था। सूचना पर पुलिस और सुरक्षाबल के जवानों ने उसे पकड़ने के लिए घेराबंदी की। उससे हथियार डालने को कहा गया लेकिन उसने गोलाबारी शुरू कर दी।

मुठभेड़ के दौरान घायल होकर तारिक मौके से भाग निकला। इसके बाद तलाशी अभियान चलाया गया, तब उसे देर रात गिरफ्तार किया गया। उसके पास से आधुनिक 303, एक मैग्जीन और 303 के 65 कारतूस बरामद किए गए।

पुलिस ने बताया, “तारिक हुसैन और उसका दोस्त मोहम्मद हनीफ 14 नवंबर को घर से लापता हो गए थे। पूरे क्षेत्र में खबर फैल गई थी कि दोनों आतंकी बन गए हैं। इसके बाद सेना की अपील पर घरवानों ने दोनों को वापस बुलाया। हनीफ ने वापस आकर खुद को पुलिस के हवाले कर दिया था लेकिन तारिक नहीं लौटा था।”