समाचार
पाकिस्तान के सिंध में फिर हिंदू किशोरी का अपरहरण कर सामूहिक दुष्कर्म, हालत गंभीर

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक 15 वर्षीय हिंदू किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। कहा जा रहा है कि हथियार लिए हुए बदमाशों ने उसका अपहरण किया और दुष्कर्म के बाद उसे सड़क पर फेंक दिया।

नवभारत टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान मानवाधिकार कार्यकर्ता राहत आस्टिन ने बताया कि लड़की की हालत बेहद गंभीर बनी हुई है। इसी तरह बीते दिनों सिंध प्रांत के थारपारकर जिले में एक 17 वर्षीय हिंदू लड़की ने आत्‍महत्‍या कर ली थी।

उसके परिवारवालों का कहना है कि लड़की के साथ एक वर्ष पहले दुष्कर्म हुआ था और अपराधी उसे धरा-धमका रहे थे। इससे वह काफी परेशान थी, जिसके चलते उसने आत्महत्या कर ली। पीड़िता के पिता ने कहा कि पिछले वर्ष जुलाई में किशोरी के साथ तीन लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया था। इस मामले के आरोपी जमानत पर बाहर खुले घूम रहे हैं।

डॉन न्यूज़ की रिपोर्ट के अनुसार, आरोपियों ने लड़की के साथ दुष्कर्म का वीडियो भी बना लिया था और उसे वायरल करने की धमकी दे रहे थे। जिले के एसएसपी ने भी माना था कि प्रारंभिक मेडिकल रिपोर्ट में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है।

इमरान खान की सरकार में हिंदू लड़कियों के खिलाफ घटनाएँ रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। पाकिस्तान में पिछले दिनों एक विदेशी महिला को कार में खींचकर उसके साथ दुष्कर्म किया गया। इमरान खान ने ऐसे आरोपियों को फांसी की सज़ा देने का सुझाव दिया था।