समाचार
हिंदू बताकर धोखे से मनीषा यादव से शादी की, इस्लाम कुबूलवाने के बाद दिया तलाक

आजमगढ़ की मनीषा यादव से पहले एक मुस्लिम युवक ने खुद को हिंदू बताकर शादी की। फिर उसका जबरदस्ती धर्म परिवर्तन करवा दिया। शादी के पाँच साल बाद उसने मनीषा उर्फ शबनम को तलाक दे दिया। वह दो बच्चों के साथ न्याय के लिए इधर-उधर भटकने को मजबूर हो गई। उसकी दयनीय स्थिति देख मदद के लिए विभिन्न संगठनों के अलावा कई लोग आगे आए हैं।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, झारखंड के चरही में भाजपा के ओबीसी प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष अमरदीप यादव, वनवासी कल्याण केंद्र के जिला सचिव रामसेवक प्रसाद, विभावि अभिषद सदस्य पंकज मेहता, बजरंग दल के अलावा काफी संख्या में स्थानीय लोगों ने घटना की निंदा की है।

उन्होंने पुलिस से बातकर पीड़िता को न्याय दिलाने की माँग की है। पुलिस को बताया गया कि मनीषा यादव को जान का खतरा है। मामला केवल भरण पोषण का नहीं बल्कि धर्मांतरण, धोखाधड़ी और प्रताड़ना का भी है। इस पर पुलिस ने हरसंभव मदद की बात कही है।

झारखंड के हजारीबाग में एक मुस्लिम युवक ने पहले खुद को हिंदू बताकर हिंदू युवती से शादी की। बाद में असलियत बता उसका धर्म परिवर्तन करवा दिया। वर्तमान में महिला रांची में एक लॉज में रह रही है और पुलिस से पूरे मामले की मौखिक शिकायत की है।

रमजान अंसारी के आजमगढ़ में नाम बदलकर अखिलेश यादव बन धोखे से शादी करने और फिर धर्मांतरण कराने और तीन तलाक देने के मामले में विष्णुगढ़ एसडीपीओ पूछताछ करेंगे।