समाचार
उइगर व्यापारियों को चीन करता है गिरफ्तार, लगाया अलगाववादी होने का आरोप- रिपोर्ट

उइगर व्यवसायी सादिर एली 2018 की गर्मियों में अपने व्यवसाय को लेकर अति उत्साहित थे। उनकी रियल एस्टेट कंपनी अच्छा लाभ कमा रही थी और उन्होंने अपनी बेटी से कहा था कि वह उसके लिए मैसाचुसेट्स में एक घर खरीदेंगे।

वॉल स्ट्रीट जर्नल की रिपोर्ट के अनुसार, इसके उपरांत एली पर अलगाववादी होने का आरोप लगाया गया और वह उत्तर पश्चिमी शिनजियांग क्षेत्र में चीन की जेल प्रणाली के ब्लैक बॉक्स में लुप्त हो गए।

मारिया मोहम्मद जिन्होंने अपने पति के 2018 में नज़रबंद किए जाने से कुछ समय पहले ही उनके बारे में सुना था ने कहा, “वह राजनीति से जुड़े नहीं थे।” इसकी बजाय, उनका मानना है कि एली को आंशिक रूप से लक्षित किया गया था क्योंकि वह एक धनवान उइगर व्यवसायी थे। उनके प्रभाव को अधिकारी एक खतरे के रूप में भाँप रहे थे।

रिपोर्ट में कहा गया है कि एली का भाग्य शिनजियांग में चीन के जातीय अल्पसंख्यकों के दमन को उजागर करता है। दरअसल, संभ्रांत उइगर व्यापारियों की गिरफ्तारी की वजह उनके धन और व्यावसायिक हितों ने चीनी अधिकारियों और उइगर नागरिक समाज के बीच उन्हें एक सेतु के रूप में कार्य करने में सक्षम बनाया।

कुछ जानकारों ने उन्हें चीन के हान बहुमत और शिनजियांग के अधिकतर मुस्लिम जातीय अल्पसंख्यकों के बीच आर्थिक अंतर को कम करने में सहायता के रूप में देखा था।