समाचार
यूट्यूब पर हिंदुओं के खिलाफ नफरत फैलाने वाली हीर खान के मिले पाकिस्तान से संबंध

यूट्यूब पर हिंदू देवी-देवताओं के बारे में कथित रूप से आपत्तिजनक वीडियो पोस्ट करने वाली हीर खान के पाकिस्तान से संबंध होने के बारे में पता चला है। जानकारी मिल रही है कि वह कट्टरवादी गुटों से जुड़ी थी, जो उसे वीडियो भेजते थे। इसके बाद ही हीर और उसके साथी इंटरनेट पर आपत्तिजनक वीडियो अपलोड करते थे।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, हीर का कानपुर में रहने वाला साथी खुफिया एजेंसी के राडार पर है। उसके सोशल मीडिया ग्रुप में न सिर्फ भारत के कई राज्यों बल्कि पाकिस्तान व बांग्लादेश के कट्टररपंथी भी जुड़े हुए हैं। खुफिया एजेंसियों को संदेह है कि वह स्लीपर सेल हो सकता है।

प्रयागराज के खुल्दाबाद की हीर खान का यू्ट्यूब वीडियो वॉट्सैप पर वायरल होने के बाद उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था। उसके पास से मिले वीडियो साहित्य और धार्मिक कट्टरता वाले समूहों को देखते हुए उसे पाँच दिन की कस्टडी रिमांड दी गई।

हीर से एटीएस आईबी, स्टेट इंटेलिजेंस और पुलिस अधिकारियों ने पूछताछ की। जाँच में पता चला कि उसके मोबाइल पर कई ऐसे वीडियो हैं, जो पाकिस्तान से भेजे गए थे। अब पुलिस हीर के पाकिस्तान से संबंध की जाँच में लगी है।

हीर का कहना है कि मेरा कोई पाकिस्तानी दोस्त नहीं है। उसने इस बात को स्वीकारा कि वीडियो देखकर दूसरे धर्मों के प्रति उसका गुस्सा बढ़ जाता था। वह वीडियो बनाकर कानपुर के अपने साथी को वॉट्सैप कर देती थी। कानपुर का युवक उसको अपलोड करता था और उसे कट्टरवादी समूहों को भेजता था।

उधर, हीर की माँ ने दावा किया था कि पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इंज़माम-उल-हक उसके रिश्तेदार हैं। हीर प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की प्रशंसक है। वह सभी धर्मों को मानती हैं।