समाचार
“दिल्ली में कोवैक्सीन की दूसरी खुराक नहीं तो क्यों खोले टीकाकरण केंद्र”- उच्च न्यायालय

उच्च न्यायालय ने बुधवार (2 जून) को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की सरकार से कोवैक्सीन की दूसरी खुराक की कमी के बावजूद खोले गए ढेर सारे टीकाकरण केंद्रों को लेकर सवाल पूछे हैं। साथ ही नोटिस भी जारी किया है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, उच्च न्यायालय ने अरविंद केजरीवाल सरकार से पूछा कि अगर आप कोवैक्सीन की दूसरी खुराक उपलब्ध नहीं करवा सकते हैं तो इतने टीकाकरण केंद्र क्यों शुरू कर दिए। क्या आप इस वैक्सीन की पहली खुराक की छह सप्ताह की समयसीमा समाप्त होने से पहले ही दूसरी खुराक मुहैया करा सकते हैं।

न्यायमूर्ति रेखा पल्ली ने इस सवाल पर दिल्ली सरकार को नोटिस भी जारी किया है। उन्होंने कहा, “अगर सरकार यह सुनिश्चित नहीं कर सकती कि निर्धारित समय पर जनता को कोवैक्सीन की दोनों खुराक मिल जाएँगी तो इतने टीकाकरण केंद्र शुरू नहीं करने चाहिए थे।”

इसके अतिरिक्त देश की राजधानी में कोवैक्सीन और कोविशील्ड की दोनों खुराक उपलब्ध करवाने का अनुरोध करने वाली दो याचिकाओं पर केंद्र सरकार को भी नोटिस जारी किया है।