समाचार
‘चौकीदार चाहिए होगा तो नेपाल जाऊँगा’- हार्दिक पटेल की नस्लीय टिप्पणी पर आलोचना

कांग्रेस नेता और पाटीदार आंदोलनकारी हार्दिक पटेल ने यह कहकर फिर विवाद को जन्म दे दिया कि अगर उन्हें एक चौकीदार चाहिए होगा तो वह नेपाल जाकर उसकी तलाश कर लेंगे।

एएनआई  की रिपोर्ट के अनुसार, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए हार्दिक पटेल की नेपाली लोगों के लिए की गई इस नस्लीय टिप्पणी की हर तरफ निंदा की जा रही है।

गुजरात के वीरमगाम में मतदान करने के बाद मीडिया कर्मियों को संबोधित करते हुए हार्दिक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, “चौकीदार ढूंढना होगा तो मैं नेपाल चला जाऊँगा। मुझे एक ऐसा प्रधानमंत्री चाहिए, जो देश की अर्थव्यवस्था को, शिक्षा को, देश के युवाओं को, जवानों को मजबूत कर सके। मुझे चौकीदार नहीं प्रधानमंत्री चाहिए।”

नेपालियों पर की गई इस नस्लीय टिप्पणी के बाद सोशल मीडिया के यूजर्स ने हार्दिक पटेल की खूब आलोचना की। यह कोई पहला मौका नहीं है, जब किसी विपक्षी नेता ने मोदी पर हमले के लिए नेपाल के नस्लवादी संदर्भ का इस्तेमाल किया हो। इससे पहले आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक अलका लांबा ने ट्विटर पर इसी तरह का पोस्ट किया था कि भारतीय नागरिकों को एक प्रधानमंत्री के लिए मतदान करना चाहिए क्योंकि वे नेपाल से एक चौकीदार ला सकते हैं।