समाचार
अडानी पोर्ट्स का गुजरात से एयर कार्गो परिसर व लॉजिस्टिक पार्क बनाने के लिए समझौता

निजी इंफ्रास्ट्रक्चर कंपनी अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन (एसईजेड) लिमिटेड ने बुधवार (27 जनवरी) को कहा कि उसने राज्य में एक समर्पित एयर कार्गो परिसर और मल्टी-मॉडल लॉजिस्टिक्स पार्क के विकास की संभावनाओं के लिए गुजरात सरकार के साथ एक सहमति पत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, कथित तौर पर एक नियामक फाइलिंग में कंपनी गुजरात के साणंद के पास विरोचन नगर में इसकी संभावनाओं को तलाश रही है।

प्रस्तावित 1,450 एकड़ पार्क में बड़े आकार के कार्गो विमानों को संभालने के लिए 4.6 किमी लंबे रनवे के साथ एक समर्पित एयर कार्गो परिसर होगा। यह सीधे हवाई, रेल और सड़क संपर्क की पेशकश करेगा। इसमें समर्पित माल गलियारे के साथ सीधी रेल कनेक्टिविटी का भी प्रावधान होगा, जो दिल्ली-मुंबई औद्योगिक गलियारे (डीएमआईसी) का हिस्सा है।

इसमें 25,000 लोगों के लिए प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रोजगार उत्पन्न करने की क्षमता होगी। राज्य सरकार के अनुसार, परियोजना को तीन वर्ष में चरणबद्ध तरीके से पूरा किया जाएगा। आवश्यक स्वीकृति और अनुमति प्राप्त करने के बाद छह महीने के भीतर काम शुरू हो जाएगा।

पार्क में हवाई माल ढुलाई स्टेशन, ग्रेड-ए गोदाम, कोल्ड स्टोरेज जैसी सुविधाओं के साथ 90 लाख वर्ग फीट का वेयरहाउस जोन होगा। वेयरहाउस में 38 लाख वर्ग फीट जगह कपड़ा, थोक, ई-कॉमर्स, नौ लाख वर्ग फीट जगह के लिए बॉन्डर वेयरहाउस, चार लाख वर्ग फुट जगह पर ग्रेड-ए पैलेटाइज्ड और 60,000 तापमान नियंत्रित पैलेटाइज्ड सुविधा होगी।

3.3 लाख की क्षमता के खिलाफ इस पार्क में एक कंटेनर यार्ड में टीईयू (बीस फीट समकक्षों) के साथ चार हैंडलिंग लाइनें होंगी। पार्क में व्यवसाय और कौशल विकास केंद्र के लिए 3 लाख वर्ग फुट जगह होगी।