समाचार
अहमद पटेल की सीट सहित गुजरात के राज्यसभा उप-चुनाव में दोनों सीटों पर भाजपा

भाजपा ने सोमवार (22 फरवरी) को गुजरात की दो राज्यसभा सीटों पर जीत दर्ज की, जो कि सदस्यों के निधन के बाद उप-चुनावों के लिए खाली हुई थीं। ये सीटें पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और भाजपा नेता अभय गणपतराय भारद्वाज के पास थीं, जिनका हाल ही में देहांत हुआ है।

नवंबर 2020 में कोविड-19 से जंग लड़ने के बाद अहमद पटेल का 71 वर्ष की उम्र में निधन हो गया था। कोरोनोवायरस संक्रमण की चपेट में आने से उनकी हालत बिगड़ती गई थी। उनके कई अंगों ने काम करना तक बंद कर दिया था।

2017 में अहमद पटेल ने कांग्रेस नेताओं के विद्रोही बनने के बाद राज्यसभा सीट जीत ली थी। इससे दोबारा चुनाव का खतरा हुआ और संभावित रूप से भाजपा की जीत का मार्ग खुलने लगा। इन दोनों सीटों के लिए भाजपा के नए सांसद दिनेशचंद्र जमलभाई अनवडिया और रामभाई हरजीभाई मोकरिया हैं।

बाद में उन्होंने दो विद्रोही सांसदों के मतपत्रों के बाद जीत हासिल की, जिन्हें चुनाव आयोग द्वारा अमान्य घोषित किया गया था। दोनों सांसदों ने अपने जनादेश को डालने के बाद कथित रूप से भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ताओं को अपना मतपत्र दिखाया था।