समाचार
नासा ने बताया 20 सालों में पृथ्वी पर बढ़ी हरियाली, भारत का है विशेष योगदान

हाल ही में नासा द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट ने बताया है कि 20 साल पहले के मुकाबले धरती पर अभी वनस्पति का स्तर बढ़ गया है।  इसका मतलब यह है कि धरती पर वृक्षारोपण तेज़ी से हुआ है। नासा की रिपोर्ट के अनुसार प्रकृति के इस परिवर्तन में सबसे ज़्यादा योगदान चीन और भारत का है। जी हाँ दुनिया भर में चीन पहले स्थान पर और भारत दूसरे स्थान पर है। दुनिया में सबसे ज़्यादा आबादी वाले ये दो देश ही पृथ्वी की हरियाली में सबसे आगे हैं, फोर्बस  की रिपोर्ट में बताया गया।

ऐसा कहना है कि दुनिया में सबसे ज़्यादा संसाधन की खपत ये दो देश ही करते हैं, भारत में 130 अरब की आबादी की वजह के लिए संसाधनों के उपभोग के बावजूद भारत खिद को दूसरे स्थान पर लाने में सक्षम रहा।

नासा के उपग्रह द्वारा जारी किए गए चित्रों से देखा जा सकता है कि किस तरह वनस्पति क्षेत्र बढ़ा है। नासा की रिपोर्ट से यह सिद्ध हो गया है कि भारत की प्रकृति संबंधित संस्थाएँ अच्छा कार्य कर रही हैं।

1970 से 1980 के दशक में भारत में निर्माण कार्य बहुत तेज़ी से बढ़ रहा था जिसकी वजह से प्रकृति की समस्या बढ़ती दिख रही थी लेकिन सही समय पर ध्यान देने और पर्यावरण संरक्षण संस्थानों के चलते भारत में वनों का विकास एक बार फिर देखने को मिल रहा है।