समाचार
एनडीए सरकार का इंफ्रा शतक- वित्तीय वर्ष 2019 में पूरी हुईं 101 बड़ी परियोजनाएँ

एनडीए सरकार ने अप्रैल से दिसंबर (वित्तीय वर्ष 2019) के बीच 101 बड़ी परियोजनाओं का काम पूरा कर लिया। फाइनेंशल एक्सप्रेस  की रिपोर्ट के अनुसार, इस तरह पिछला वर्ष विकास के मामले में अब तक का सबसे अच्छा साल साबित हुआ।

सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के अनुसार, इन सारी परियोजनाओं की कुल लागत 1,06,966 करोड़ रुपये थी।

दिसंबर 2018 के अनुसार, मंत्रालय ने कुल 1464 बड़ी (150 करोड़ रुपये से ज्यादा) परियोजनाओं की सूचना दी थी। इनकी कुल बजटीय लागत 18,45,993.53 करोड़ रुपये थी। वहीं अनुमानित कुल लागत 21,66,855.51 करोड़ रुपये तक होगी।

यह गौर करने वाली बात है कि दिसंबर तक 1424 परियोजनाओं में से 354 बुनियादी ढांचा परियोजनाएं निर्धारित समय पर थीं। वहीं, 384 परियोजनाओं में देरी हुई, जबकि 686 परियोजनाओं की कोई समयरेखा नहीं थी।

पिछली मनमोहन सिंह की अगुआई वाली यूपीए सरकारों की तुलना में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार ने पिछले पांच वर्षों में न केवल अधिक गांवों की सड़कें बनाईं बल्कि बहुत तेजी से काम भी किया।

एक फरवरी को बजट पेश करने के दौरान तत्कालीन वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा था, “वर्तमान भाजपा सरकार के राज में भारत दुनिया का सबसे तेज राजमार्ग बनाने वाला देश बन गया ।” उन्होंने कहा, ” मोदी सरकार ने 27 किलोमीटर प्रति दिन की दर से राजमार्ग बनाए, जिससे यह दुनिया में सबसे तेज है।”