समाचार
मध्य प्रदेश- गाय गोद लेने के लिए शुरू होगी ऑनलाइन सेवा, वेबसाइट पर होंगे कई पैकेज

कांग्रेस सरकार मध्य प्रदेश की विभिन्न गौशालाओं से गाय गोद लेने के लिए एक ऑनलाइन सेवा शुरू करने जा रही है। द हिंदू की रिपोर्ट के अनुसार, योजना का उद्देश्य गायों को अच्छा भोजन और आश्रय प्रदान करना है।

गाय गोद लेने के लिए विभाग की वेबसाइट पर कई तरह के पैकेज उपलब्ध होंगे। 15 दिन के लिए गाय गोद लेने पर 1100 रुपये, छह महीने के लिए 11,100 रुपये और 10 साल के लिए 3 लाख रुपये खाने व देखभाल के लिए देने होंगे। वर्तमान में मध्य प्रदेश में 626 गौशालाएँ हैं और सभी इस योजना में आएँगी।

सरकार गोद लेने वाले दाताओं को एक प्रमाण पत्र के साथ वेबसाइट पर उनकी विशेषता भी दर्शाएगी। इसके जरिए एनआरआई सहित अन्य दाता गौशालाओं को बोरवेल, बैल, बायोगैस संयंत्र और शेड जैसी अन्य ज़रूरी चीज़े खरीदने में मदद कर सकेंगे।

योजना के बारे में एक अधिकारी ने जानकारी दी, “फिलहाल, अभी गाय को गोद लेने वाले दाता सिर्फ एक विशिष्ठ गाय को ही नहीं खिला सकेंगे। अगर ऐसा होता है तो यह अन्य गायों के साथ अन्याय होगा। अगर इसे सकारात्मक प्रतिक्रिया मिलती है तो हम गायों का विवरण ऑनलाइन तस्वीरों के साथ पोस्ट कर सकते हैं, ताकि गोद लेने वाला अपनी पसंद से गाय को चुन सकें।”

इस योजना के लिए जिला कलेक्टर को जिम्मेदारी दी जाएगी, ताकि दान का सही उपयोग किया जा सके। मालूम हो कि कमलनाथ सरकार ने जनवरी में घोषणा की थी कि वह राज्य में 1,000 गौशालाएँ बनाएगी। इस वर्ष राज्य के बजट में मवेशियों की खेती और पशुधन को बढ़ावा देने के लिए 132 करोड़ रुपये आवंटित किए गए थे।