समाचार
जर्मनी ने यूरोपीय संघ में मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने का उठाया कदम

मंगलवार (19 मार्च) को जर्मनी ने पाकिस्तान में स्थित आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अज़हर अल्वी को वैश्विक आतंकवादी घोषित करार देने के लिए यूरोपीय संघ में गुहार लगाई है, इससे कुछ दिन पहले संयुक्त राष्ट्र भी मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करना चाहता था पर उस समय चीन ने इस कार्यवाही में अड़चन लगा दी थी, इकोनॉमिक्स टाइम्स  ने रिपोर्ट किया।

जर्मनी ने कहा है कि यूरोपीय संघ में बहुत से साथी देश उसके साथ है जिसकी मदद से वह मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करवाएगा, जिसके बाद मसूद की यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया जाएगा और 28 देशों में उसकी सारी संपत्तियों को जब्त कर लिया जाएगा।

जर्मनी ने यूरपीय संघ में अज़हर पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव तो रखा है पर इस पर संघ का अभी तक कोई जवाब नहीं आया है।

एक राजनयिक सूत्र के अनुसार, संघ से जुड़े हुए सभी 28 देशों को जर्मनी के इस प्रस्ताव में साथ देते हुए पाकिस्तान के आतंकवादी मसूद अज़हर को वैश्विक आतंकवादी घोषित तो करना चाहिए पर ऐसे मामलों में यूरोपीय संघ आम सहमति के सिद्धांत का पालन करता है।

15 मार्च को फ्रांस ने मसूद पर वित्तीय प्रतिबंध लगा दिया था और साथ ही कहा था कि वह आपने यूरोपीय साथ देशों के साथ मिलकर जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया को वैश्विक आतंकवादी घोषित करवाएगा।

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने जब मसूद को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की पहल की और उसी के बाद चीन ने इसके बीच अड़चनें लगा दी, फ्रांस ने यह फैसला इसी घटनाक्रम के बाद सुनाया।