समाचार
स्पुतनिक-वी की दो खुराकों के मध्य अंतर 180 दिन तक संभव- रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष

विश्वस्तर पर वैक्सीन का विपणन करने वाले रूसी प्रत्यक्ष निवेश कोष (आरडीआईएफ) ने कहा कि हमारी कोविड-19 वैक्सीन स्पुतनिक-वी की दो खुराकों के मध्य का अंतर 180 दिनों तक बढ़ाया जा सकता है।

इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, आरडीआईएफ के एक अधिकारी ने बयान में कहा कि स्पुतनिक-वी की दो खुराकों के मध्य के अंतर को लंबा किया जा सकता है। इससे टीका प्रभावी रहेगा। वैक्सीन बनाने वाले गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट के आधिकारिक उद्धृत परीक्षणों ने लंबे अंतराल को दिखाते हुए एक बेहतर प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया प्राप्त की थी।

यह विकास वैक्सीन का उपयोग करने वाले कई देशों द्वारा आरडीआईएफ के सहयोग से रूस के गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट ऑफ एपिडेमियोलॉजी एंड माइक्रोबायोलॉजी द्वारा विकसित जैब की पहली और दूसरी खुराक के मध्य के अंतर को बढ़ाने का निर्णय लेने के बाद आया है।

कज़ाकिस्तान और अर्जेंटीना ने रूसी वैक्सीन के दो शॉट्स के मध्य का अंतराल बढ़ा दिया है। कज़ाकिस्तान ने कहा कि खुराकों के बीच लंबा अंतराल एक मजबूत प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया प्रदान करता है। अर्जेंटीना ने अधिक संख्या में लोगों के टीकाकरण को प्राथमिकता देने के लिए अंतर बढ़ा दिया था।

इससे पूर्व, अप्रैल में गामालेया रिसर्च इंस्टीट्यूट के निदेशक एलेक्जेंडर गिंट्सबर्ग ने कहा था कि स्पुतनिक-वी की खुराकों के बीच के अंतर को 90 दिनों तक बढ़ाया जा सकता है।