समाचार
“पाकिस्तान से निपटने के लिए सरकार ने तीनों सैन्य प्रमुखों को दी छूट”- रिपोर्ट

तीन सेवा प्रमुखों- सेना प्रमुख बिपिन रावत, नौसेना प्रमुख सुनिल लांबा और वायुसेना प्रमुख वीएस धनोआ- को सरकार द्वारा पाकिस्तानी सेना की हरकतों का जवाब देने के लिए खुली छूट दी गई है, इंडिया टुडे  ने रिपोर्ट किया।

27 फरवरी को पाकिस्तान के एफ16 भारतीय भूभाग में घुसे और सैन्य स्थापनाओं पर निशाना साधा। हालाँकि भारत ने तुरंत प्रतिक्रिया देकर एक एफ16 को मार गिराया लेकिन एक भारतीय मिग21 क्रैश हो गया व वायु सेना के एक जवान को बंदी बना लिया गया।

आज (28 फरवरी को) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शाम 7 बजे एक कैबिनेट बैठक रखी है जिसमें वे पूरी स्थित को समझेंगे।

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और यूएस के राज्य सचिव माइक पॉम्प्यो के बीच कल देर रात हुई टेलीफ़ोन पर वार्ता में पाकिस्तान की धरती पर भारत द्वारा जैश-ए-मोहम्मद के आतंक शिविर के नष्ट किए जाने का यूएस ने समर्थन किया।

जहाँ भारत ने गैर-राजकीय स्थलों को निशाना बनाया, वहीं पाकिस्तान ने भारतीय सैन्य सुविधाओं पर निशाना साधा था जो शांतिकाल की परंपराओं का उल्लंघन है।