समाचार
पूर्व सेना प्रमुख वीके सिंह ने एलएसी पर बयानों के लिए इंडियन एक्सप्रेस पर साधा निशाना

पूर्व सेना प्रमुख और केंद्रीय राज्यमंत्री वीके सिंह ने ट्वीट करके एक नोट के माध्यम से मदुरई वाले बयान को गलत तरीके से पेश करने वाली खबरों पर अपनी सफाई पेश की। उन्होंने कहा, “मैं एलएसी और सीमाओं को लेकर अधिक जागरूक हूँ।” उन्होंने इंडियन एक्सप्रेस पर गलत खबरें प्रकाशित करने का आरोप लगाया।

वीके सिंह ने कहा, “लगभग एक दशक से मेरे खिलाफ गलत खबरें प्रकाशित की गईं, जो कई बार सुर्खियों में रहीं। इस पर न तो प्रेस परिषद और न किसी अन्य निकाय ने हस्तक्षेप किया।”

राज्यमंत्री ने कहा, “मैंने सोशल मीडिया और अखबारों में मदुरई में दिए अपने बयान को पढ़ा। इसमें तथाकथित रूप से मेरे हवाले से बताया गया कि चीन ने एक बार एलओसी पर अतिक्रमण किया तो हमने उसके बदले पाँच बार एलएसी का उल्लंघन किया। मैंने सिर्फ स्थापित तथ्य को बताया था कि एलएसी के साथ सीमाएँ सीमांकित नहीं की गई हैं। ऐसा जब तक नहीं किया जाता है, तब तक हमेशा अलग-अलग धारणाएँ बनती रहेंगी।”

वीके सिंह ने कहा, “तथ्य यह है कि चीन ने सीमा का निपटारा करने से मना कर दिया, जो वह धौंस जमाने के लिए करता है। भारत अब उसकी चालों के प्रति जागरूक है और किसी भी आक्रामकता का जवाब देने को तैयार है, जो हमने गलवान में दिया था।”

पूर्व सेना प्रमुख ने कहा, “सनसनीखेज़ खबर बनाने के लिए अखबार के संपादकों को यह सत्यापित करना होगा कि क्या कहा था और क्या बताया गया है। गलत बयान को पेश कर चीन को दोष मढ़ने और उसे अपनी गलतियों को छिपाने का मौका दे दिया गया। मैं इस गलत सूचना के निहितार्थ से अच्छी तरह अवगत हूँ। यह पूरी रिपोर्ट दुर्भावनापूर्ण विकृति है। वास्तव में जो कहा गया है, उससे उसका कोई लेना देना नहीं है।”