समाचार
वित्त मंत्री ने उद्योग जगत से कहा, “केंद्र लोगों की जान और आजीविका बचाने में जुटी”

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार (19 अप्रैल) को कई कारोबारी और उद्योग मंडलों के प्रतिनिधियों से फोन पर वार्ता की। इस दौरान उन्होंने बिज़नेस चैंबर के प्रतिनिधियों से उद्योग व संघ से जुड़े मुद्दों पर विचार-विमर्श किया।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा, “केंद्र सरकार विभिन्न स्तरों पर कोरोना संक्रमण से निपट रही है और लोगों की जान और आजीविका बचाने के लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रही है।”

उन्होंने कोटक महिंद्रा बैंक के सीईओ उदय कोटक, फिक्की के उदय शंकर, बंगाल चैंबर ऑफ कॉमर्स के देब मुखर्जी, बैंगलोर चैंबर ऑफ कॉमर्स के टीआर परशुरामन और हीरो मोटो कॉर्प के पवन मुंजाल से फोन पर वार्ता की।

वित्त मंत्री ने वार्ता के बाद ट्वीट किया, “मैंने बिज़नेस एवं चैंबर से जुड़े प्रतिनिधियों से बात की। इंडस्ट्री और एसोसिशन से जुड़े मुद्दों पर उनकी राय ली। उन्हें सूचित किया कि केंद्र सरकार विभिन्न स्तर पर कोविड प्रबंधन से जुड़ी है। लोगों का जीवन और आजीविका के लिए राज्य सरकारों के साथ मिलकर काम कर रही है।”

बता दें कि इससे पूर्व, निर्मला सीतारमण ने विश्व बैंक समूह के अध्यक्ष डेविड मालपास के साथ एक वर्चुअल बैठक में साफ तौर पर कह दिया था कि सरकार बड़े पैमाने पर लॉकडाउन नहीं लगाने जा रही है। केवल स्थानीय कंटेनमेंट के माध्यम से ही संक्रमण से निपटने की योजना बना रही है।