समाचार
यूरोपीय संघ के दौरे के बीच कश्मीर में पाँच लोगों की हत्या के बाद सैन्य तलाशी अभियान

एक नृशंस हमले में आतंकवादियों ने मंगलवार (29 अक्टूबर) को जम्मू-कश्मीर के कुलगाम जिले में पाँच गैर-कश्मीरी मजदूरों की हत्या कर दी, वहीं एक गंभीर रूप से घायल हो गया।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, हमले में मारे गए सभी मजदूर पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद के थे और घाटी में राजमिस्त्री के रूप में कार्यरत थे। हमला होने पर वे कुलगाम के कतर्सु क्षेत्र में एक घर का निर्माण कर रहे थे। दरअसल कतर्सु को पाकिस्तान समर्थित हिजबुल मुजाहिदीन के गुर्गों के प्रभुत्व के लिए जाना जाता है।

इस हमले के बाद सुरक्षाबलों ने तलाशी अभियान शुरू कर दिया है। जगह-जगह पर जाँच की जा रही है। इतना ही नहीं इसके लिए अतिरिक्त सुरक्षाबलों को भी बुलाया गया है।

ध्यान देने योग्य बात यह है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों के निरस्त होने के बाद आतंकवादी विशेष रूप से देश के अन्य हिस्सों से घाटी में आने वाले ट्रक चालकों और मजदूरों को निशाना बना रहे हैं।

घाटी में यह घटना उस समय हुई है जब यूरोपीय संघ के 28 सदस्य वहाँ के शांति व्यवस्था को देखने गए थे।