समाचार
चीन में कोरोनावायरस से संक्रमित मिली भारतीय महिला, एक करोड़ खर्च पर हालत गंभीर

किसी भारतीय के कोरोनावायरस से चीन में संक्रमित होने का पहला मामला सामने आया है। जानकारी मिली है कि प्रीति माहेश्वरी दो सप्ताह से गंभीर हालत में चीन के गुआंगदोंग प्रांत में स्थित शेनझेन के अस्पताल में भर्ती हैं।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, प्रीति शेनझेन के ही इंटरनेशनल स्कूल ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी में अध्यापिका हैं। उन्हें 11 जनवरी को सांस लेने में परेशानी के चलते शेकोऊ अस्पताल ले जाया गया था। वहाँ उनके कोरोनावायरस निमोनिया टाइप-1 से संक्रमित होने की बात सामने आई थी।

रिपोर्ट्स के अनुसार, प्रीति मल्टीपल ऑर्गन डिसफंक्शन सिंड्रोम (मॉड्स) से पीड़ित हैं। उनके कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया है। शेकोऊ अस्पताल के आईसीयू में प्रीति को रेसिपिरेटरी सपोर्ट और वेंटिलेटर पर रखा गया है। खून साफ करने के लिए उनका डायलिसिस भी किया जा रहा है।

प्रीति के भाई मनीष थापा के मुताबिक, उनकी हालत में सुधार हुआ है। अब धड़कनें और एमआरआई सामान्य हैं। हालाँकि, वह अब भी क्रिटिकल लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर हैं। मनीष भारत में उनका इलाज कराने के बारे में सोच रहे हैं। इस मामले में केंद्र सरकार से बात की गई है।

मनीष ने एक पोस्ट जारी कर मदद की गुहार लगाई है। उन्होंने लिखा, “भर्ती होने से लेकर अब तक इलाज में करीब 1 करोड़ रुपये खर्च हो चुके हैं।” उन्होंने बहन के इलाज के लिए पैसे भी इकट्ठा किए लेकिन अभी तक लोगों से 29.43 लाख रुपये ही जुटाए जा सके हैं।