समाचार
पंजाब में आंदोलनकारी किसानों ने जियो के 1300 टावरों की बिजली आपूर्ति बाधित की

पंजाब के आंदोलनकारी किसान और उनके समर्थकों ने दूरसंचार सुविधाएँ देने वाले रिलायंस जियो के करीब 1300 मोबाइल टावरों की बिजली आपूर्ति में कटौती कर दी। इससे मोबाइल और इंटरनेट सेवाएँ बाधित हो गईं और कंपनी के नेटवर्क और बुनियादी ढाँचे पर निर्भर रहने वाले उपयोगकर्ताओं को असुविधा हो रही है।

फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, रिलायंस जियो पंजाब में लगभग 9,000 टावरों का परिचालन करती है। इनमें से लगभग 1,300 टावरों को काट दिया गया है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कुछ टावरों के अलावा प्रदर्शनकारी फाइबर लाइन को काटने के लिए भी चले गए थे।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने प्रदर्शनकारियों से संयम बरतने और आम जनता को असुविधा न होने देने की अपील की थी। हालाँकि, फिर भी पंजाब पुलिस या सरकार ने प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की है।

अमरिंदर सिंह ने कहा था, “राज्य के कई हिस्सों में किसानों द्वारा मोबाइल टावरों की बिजली आपूर्ति रोकने के कारण दूरसंचार सेवाओं का जबरदस्त व्यवधान पड़ा है। यह न केवल ऑनलाइन शिक्षा पर निर्भर छात्रों की पढ़ाई और भविष्य की संभावनाओं पर प्रतिकूल प्रभाव डाल रहा बल्कि महामारी के कारण घर से काम करने वाले लोगों के दैनिक जीवन में भी बाधा डाल रहा है।”

उन्होंने यह भी कहा, “दूरसंचार सेवाओं के विघटन से राज्य की पहले से परेशान अर्थव्यवस्था पर भी गंभीर असर पड़ेगा।”

टावर एंड इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर्स एसोसिएशन (टीएआईपीए) की ओर से राज्य सरकार को मामले में आगे आने और प्रदर्शनकारियों को किसी भी गैरकानूनी गतिविधि का सहारा नहीं लेने के लिए राजी करने को कहा था। इसके बाद मुख्यमंत्री ने प्रदर्शनकारियों से अपील की थी।