समाचार
“एक दिन में ढहे तीन मिथ्या अभियान- हिंदू आतंक, गोधरा कांड और नीरव मोदी”: जेटली

केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि ‘अनिवार्य रूप से विपरीत’ रहने वालों के तीन मिथ्या दावे- हिंदू आतंक मत, गोधरा कांड और नीरव मोदी मामला- एक ही दिन में ढह गए।

“सत्या और असत्य में मुख्य अंतर यही है कि सत्य टिका रहता है और झूठ ढह जाता है। ‘अनिवार्य रूप से विपरीत’ रहने वालों के हर अभियान के सामने सत्य ही विजयी हुआ है। चाहे वह चुनावी मत हो या न्यायिक निर्णय, अंतिम परिणाम सत्य के पक्ष में ही आया है।”, गुरुवार (21 मार्च) को उन्होंने पेसबुक पोस्ट में लिखा।

बुधवार को समझौता ब्लास्ट मामले में हिंदू आतंक का कथन ढह गया, गोधरा कांड में एक और आररोपी को दोषी करार दिया गया और लंदन में नीरव मोदी की गिरफ्तारी भी हुई। जेटली ने यह भी कहा कि नीरव ने धोखाधड़ी 2011 में शुरू की थी जब यूपीए द्वितीय का कार्यकाल चल रहा था।

“मिथ्या आरोपों पर टिके रहने में खतरा है। वे जल्द ही ढद जाते हैं, जैसा कि कल तीन मामलों के साथ हुआ। मैं आशा करता हूँ कि मिथ्या अभियान टलाने वाले इससे कुछ सबक सीखेंगे।”, जेटली ने पोस्ट के अंत में कहा।