समाचार
देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद त्यागा- “हमें लगा था एनसीपी के सभी विधायक हैं साथ”

3.30 बजे शुरू हुई प्रेस वार्ता में देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि वे मुख्यमंत्री पद का त्याग-पत्र राज्यपाल को सौंपेंगे। उन्होंने शपथ-ग्रहण इसलिए किया था क्योंकि उन्हें लगा था कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) उनका समर्थन कर रही है और अजित पवार एनसीपी विधायक दल के नेता हैं।

अजित पवार द्वारा उप-मुख्यमंत्री पद से त्याग-पत्र देने पर फडणवीस ने कहा, “अजित पवार आज मेरे पास आए और उन्होंने कहा, वे इसे जारी नहीं रख सकते व त्याग-पत्र सौंप रहे हैं। इसलिए मैं भी त्याग-पत्र दे रहा हूँ।”

उन्होंने शिवसेना पर आँकड़ों के आधार पर मोल-तोल करने का भी आरोप लगाया। साथ ही यह कहा कि भाजपा अन्य पार्टियों को तोड़ने में विश्वास नहीं रखती है इसलिए वे इस प्रतिस्पर्धा से बाहर हो रहे हैं।

महायुती को स्पष्ट बहुमत का जनादेश देने के लिए उन्होंने महाराष्ट्र की जनता के प्रति भी आभार व्यक्त किया। शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस शाम छह बजे बैठक करके अपने गठबंधन की ओर से मुख्यमंत्री घोषित करने वाले हैं। हालाँकि उद्धव ठाकरे पद के सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं।