समाचार
भाजपा-शिवसेना की खींचतान के बीच फडणवीस की शपथ की बात, शाह निकालेंगे हल

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस अपने दूसरे कार्यकाल के लिए गुरुवार (31 अक्टूबर) या शुक्रवार को पद और गोपनीयता की शपथ ले सकते हैं, टाइम्स ऑफ इंडिया  ने रिपोर्ट किया। भाजपा को लगता है कि देरी होने के कारण शिवसेना लगातार मुख्यमंत्री पद और 50-50 गणित को लेकर दवाब बनाने की कोशिश कर रही है।

सूत्रों के अनुसार भाजपा नेताओं को लगता है कि शिवसेना सरकार की शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हो सकती है क्योंकि शिवसेना और भाजपा की एक विचारधारा है, इसलिए साथ नहीं रहने का कोई सवाल ही नहीं है। शिवसेना पद को लेकर कुछ मोल-भाव ज़रूर कर रही है।

भाजपा के एक सूत्र ने टीओआई  को कहा, “फडणवीस 31 अक्टूबर या 1 नवंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे और हमें उम्मीद है कि शिवसेना सरकार में शामिल होगी।”

इससे पहले, मंगलवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने अपने एक बयान में कहा था, “मुख्यमंत्री मैं ही बनूँगा, शिवसेना के साथ कोई 50-50 समझौता नहीं हुआ है।” फडणवीस के इस बयान के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने भाजपा के साथ होने वाली बैठक को रद्द कर दिया था।

एएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, महाराष्ट्र प्रदेश इकाई द्वारा वार्ता असफल होने के बाद भाजपा अध्यक्ष अमित शाह खुद शिवसेना प्रमुख से बात करेंगे। उम्मीद जताई जा रही है कि इसके बाद दोनों दलों के बीच जारी विवाद का पटाक्षेप हो जाएगा।