समाचार
ईओडब्ल्यू ने सिंधिया के भाजपा में सम्मिलित होने के एक दिन बाद ही खोला पुराना मामला

मध्य प्रदेश की आर्थिक अपराध इकाई (ईओडब्ल्यू) ने गुरुवार (12 मार्च) को ज्योतिरादित्य सिंधिया और उनके परिवार पर छह साल पुराना एक मामला खोल दिया है। यह उनके कांग्रेस छोड़कर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में सम्मिलित होने के एक दिन बाद ही हुआ है।

ईओडब्ल्यू उस शिकायत के तथ्यों की पुनः जाँच करेगा जिसमें कहा गया था कि 6,000 स्क्वायर फीट का कहकर सिंधिया परिवार ने उससे कम क्षेत्रफल वाली भूमि ग्वालियर में बेची थी।

यह कार्रवाई सिंधिया के बुधवार को भाजपा में सम्मिलित होने के 24 घंटों के भीतर ही शुरू कर दी गई। ईओडब्ल्यू के अधिकारी ने गुरुवार शाम को बताया, “हाँ, सुरेंद्र श्रीवास्तव की शिकायत के तथ्यों को फिर से जाँचने का आदेश दिया गया है।”

गुरुवार को सुरेंद्र श्रीवास्तव ने 2009 में हुई रजिस्ट्री पर फिर से शिकायत दर्ज की है। पहले यह मामला 26 मार्च 2014 को दर्ज किया गया था और जाँच के बाद 2018 में बंद कर दिया गया था, ईओडब्ल्यू अधिकारी ने बताया।

“अब श्रीवास्तव ने फिर से याचिका दर्ज की है तो हम उनकी शिकायत की फिर से जाँच करेंगे।”, अधिकारी ने जानकारी दी।

सिंधिया गुट के 22 विधायकों ने भी त्याग-पत्र दे दिया है और अब मध्य प्रदेश में कमल नाथ सरकार पर खतरे के बादल मंडरा रहे हैं। भोपाल में भाजपा द्वारा आयोजित सिंधिया के स्वागत समारोह में सरकार गिराने की बात भी कही गई थी।