समाचार
ईडी ने माल्या, चोकसी और नीरव की ₹9,371 करोड़ की संपत्ति बैंकों को स्थानांतरित की

बैंकों से धोखाधड़ी करके भागे कारोबारी विजय माल्या, नीरव मोदी और मेहुल चोकसी के विरुद्ध बड़ी कार्रवाई करते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आरोपियों की 9,371 करोड़ रुपये की संपत्ति सरकारी बैंकों को स्थानांतरित कर दी है।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, अब तीनों आरोपियों की संपत्ति से बैंकों को हुई क्षति की भरपाई की जाएगी।

ईडी ने कहा कि धन-शोधन निवारण अधिनियम (पीएमएलए) के तहत तीनों आरोपियों के मामले में न केवल 18,170.02 करोड़ रुपये (बैंकों को हुए कुल नुकसान का 80.45%) की संपत्ति जब्त की बल्कि 9371.17 करोड़ रुपये की कुर्की या जब्त संपत्ति का एक हिस्सा भी पीएसबी और केंद्र सरकार को स्थानांतरित किया गया है।

बता दें कि विजय माल्या यूके से भारत प्रत्यर्पण के लिए वहाँ कानूनी मामलों का सामना कर रहा है और जमानत पर बाहर है। नीरव मोदी यूके की जेल में बंद है। इसी प्रकार मेहुल चोकसी को भी डोमिनिका के कारावास में रखा गया है।

हालाँकि, चोकसी के वकील ने दावा किया था कि उसे ज़बरदस्ती डोमिनिका लाया गया था लेकिन एंटीगुआ और बारबुडा के प्रधानमंत्री गेस्टॉन ब्राउन ने कहा है कि उन्हें किसी निर्णायक साक्ष्य के बारे में पक्के से पता नहीं है जिससे ऐसा माना जा सके।

भारत में 13,500 करोड़ रुपये के बैंक धोखाधड़ी मामले में वांछित चोकसी 23 मई को एंटीगुआ और बारबुडा से रहस्यमयी तरीके से लापता हो गया था, जहाँ वह 2018 से एक नागरिक के रूप में रह रहा है।