समाचार
दूती चंद बनीं विश्व यूनिवर्सिटी खेलों की दौड़ में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय

इटली के नेपोली में चल रहे 2019 समर यूनिवर्सियड में भारतीय स्प्रिंटर दुती चंद ने 100 मीटर दौड़ में स्वर्ण पदक हासिल कर देश का नाम रोशन किया। द ब्रिज  की रिपोर्ट के अनुसार, चंद ने सिर्फ 11.32 सेकंड में यह कारनामा कर दिखाया है।

तीन शूटिंग पदकों के बाद दुती का यह भारत के लिए चौथा पदक है। उनके लिए यह फाइनल मुकाबला बेहद करीबी रहा था। दुती चंद ने स्विट्जरलैंड की अजला डेल पोंटे (11.33) से सिर्फ 0.01 सेकंड के अंतर से जीत हासिल की है। जर्मनी की लीजा केवी 11.39 सेकंड के समय के साथ कांस्य पदक विजेता रहीं।

पिछले कुछ हफ्तों से मुश्किल वक्त से गुजरने के बाद दुती चंद विश्व विश्वविद्यालयी खेलों का हिस्सा बन पाई हैं। 20 साल की यह स्वर्ण पदक विजेता तब सुर्खियों में आ गई थी, जब उन्होंने समलैंगिंक संबंधों में होने का खुलासा किया था। इसके बाद काफी विवाद हुआ, जिस पर उन्होंने कहा था कि यह उनका निजी मसला है।

पदक जीतने के बाद दुती चंद ने एक ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा, “वर्षों की कड़ी मेहनत और आपके आशीर्वाद से मैंने अभी द वर्ल्ड यूनिवर्सिटी गेम्स नेपोली में स्वर्ण पदक जीता है।”