समाचार
एनआईए संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान असदुद्दीन ओवैसी को अमित शाह का करारा जवाब

एनआईए संशोधन पर लोकसभा में चर्चा के दौरान गृहमंत्री अमित शाह और एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी के बीच तीखी नोकझोंक हुई। ओवैसी ने कहा, “आप गृह मंत्री हैं तो डराइए मत।” इस पर अमित शाह ने कहा, “वह डरा नहीं रहे पर अगर उनमें डर है तो क्या किया जा सकता है।”

एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रीय अन्वेषण अभिकरण (संशोधन) विधेयक 2019 पर चर्चा के दौरान भाजपा के सत्यपाल सिंह ने कहा, “हैदराबाद के पुलिस प्रमुख को नेता ने एक आरोपी पर कार्रवाई करने से रोका था। उन्होंने कहा था कि अगर वह कार्रवाई करते हैं तो उनको मुश्किल होगी।”

इस पर असदुद्दीन ओवैसी खड़े हो गए और कहा, “भाजपा जिनकी बात कर रही है, वह यहाँ मौजूद नहीं हैं। क्या भाजपा सदस्य इसके सबूत पेश करेंगे?” इसके बाद अमित शाह ने जवाब दिया, “जब द्रमुक सदस्य ए राजा बोल रहे थे तो उन्होंने नहीं टोका? वह भाजपा सदस्य को क्यों टोक रहे हैं? अलग-अलग मापदंड अपनाना सही नहीं है।”

इस बीच गहमा-गहमी बढ़ गई और ओवैसी ने कहा, “आप गृह मंत्री हैं तो मुझे डराइए मत, मैं डरने वाला नहीं हूं।” इसका अमित शाह ने जवाब दिया, “किसी को डराया नहीं जा रहा। अगर डर मन में है तो क्या कर सकते हैं। सुनने की आदत डालिए ओवैसी साहब, इस तरह नहीं चलेगा।”

हिंदुस्तान लाइव की रिपोर्ट के अनुसार, संसद के बाद ओवैसी ने कहा, “जो भाजपा के फैसले का समर्थन नहीं करता है, उन्हें वे देशद्रोही कहते हैं। अमित शाह ने उंगली उठाकर मुझे धमकी दी है। वह सिर्फ गृहमंत्री हैं, कोई भगवान नहीं। उन्हें पहले नियम पढ़ना चाहिए।”