समाचार
हॉटस्टार, ज़ी 5, सोनी लिव से महंगी हैं डीटीएच, केबल सुविधाएँ- रिपोर्ट का दावा

1 फरवरी 2019 से शुरू हुआ भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) का नया ढाँचा ग्राहकों को केवल उस चैनल के लिए भुगतान करने की अनुमति देता है जो वे देखना चाहते हैं और यह ढाँचा पारदर्शिता, एकरूपता लाने के साथसाथ ग्राहकों के खर्चों को कम करने हेतु लागू किया गया है।

हालाँकि हॉटस्टार, ज़ी 5 और सोनी लिव जैसे ओवरटॉप (ओटीटी) एप्लिकेशन और ट्राई के नए ढांचे के बीच तुलना करने से पता चला है कि ओटीटी केबल और डीटीएच ऑपरेटरों द्वारा पेश की गई कीमतों से सस्ता है, फाइनेंसियल एक्सप्रेस  की रिपोर्ट में बताया गया।

मोबाइल डाटा या वाईफाई शुल्क के कारण ऐप्स पर देखने से अधिक खर्च होगा। एक औसत वाईफाई कनेक्शन का चार्ज लगभग 1,000 रुपये प्रति माह (दोपहर) है और एक नियमित पोस्टपेड बिल 400 रुपये से 900 रुपये के बीच आता है और मासिक बिल लागत जोड़ने के बाद 3,500 रुपये प्रति माह तक पहुँच जाएगा।

यह सुनिश्चित करने के लिए गणना सरल है और ओटीटी ऐप्स और केबल टीवी के बीच की लागत तुलनीय है, फाइनेंसियल एक्सप्रेस ने माना है कि 17 चैनलों- स्टार स्पोर्ट्स, स्टार वर्ल्ड, एचबीओ, स्टार प्लस, ज़ी टीवी, ज़ी सिनेमा, आदि को प्रीमियम चार्ज देने के बाद ग्राहक आसानी से इन ऐप्स पर देख सकते हैं।

हॉटस्टार, सोनी लिव और ज़ी 5 की प्रीमियम विषयवस्तु क्रमश: 999 रुपये, 499 रुपये और 999 रुपये सालाना पर उपलब्ध है, जो कि 17 चैनलों को देखने के लिए समयसमय पर 2,497 रुपये खर्च करने के बराबर है।

केबल या डीटीएच कनेक्शन पर समान 17 चैनलों की कीमत 430.70 रुपये होगी जो कुल मिलाकर 5,168.40 रुपये प्रति वर्ष होगी। यह राशि नेटवर्क कैपेसिटी फीस 130 रुपये प्रति माह होगा जिसमें कर भी सम्मिलित है। रिपोर्ट के अनुसार, गणना ट्राई की वेबसाइट पर की गई है और एसडी चैनलों के संदर्भ में है।