समाचार
पीओके के मौसम का हाल निजी चैनलों पर भी आएगा, चिंतित पाकिस्तान ने कहा निरर्थक

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के मीरपुर, मुज़फ्फराबाद और गिलगित-बल्तिस्तान के मौसम का हाल बताने वाली भारतीय रिपोर्ट के बाद पाकिस्तान बौखला गया है। उसने इसे कानूनी रूप से बेकार कार्रवाई बताते हुए क्षेत्र की स्थिति कभी ना बदलने की बात कही।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने कहा, “भारत द्वारा गत वर्ष जारी किए गए कथित राजनीतिक नक्शे की तरह उसका यह कदम भी कानूनन निरर्थक है।” वहीं, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने कहा, “जल्द निजी समाचार चैनल भी पीओके के शहरों के मौसम पर रिपोर्ट जारी करना शुरू कर देंगे।”

दूरदर्शन और आकाशवाणी ने शुक्रवार से अपने प्राइम टाइम समाचार में पीओके के इन क्षेत्रों के मौसम का हाल बताया। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने जम्मू-कश्मीर के अपने मौसम संबंधी उप-मंडल का उल्लेख जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बल्तिस्तान और मुजफ्फराबाद के रूप में करना शुरू कर दिया।

आईएमडी महानिदेशक एम महापात्र ने कहा, “जम्मू-कश्मीर जब से दो अलग केंद्रशासित प्रदेशों में बँटा है, तब से पीओके के तहत इन क्षेत्रों के लिए दैनिक बुलेटिन में उल्लेख कर रहे हैं। इन क्षेत्रों का उल्लेख विशिष्ट तौर पर जम्मू कश्मीर उप-मंडल के तहत हो रहा है। पीओके में स्थित इन शहरों का जिक्र अब उत्तर पश्चिम डिविजन के संपूर्ण पूर्वानुमान में हो रहा है।”

उधर, पाकिस्तान ने भारत में चिनाब नदी में कम पानी छोड़े जाने का आरोप लगाया है। भारत ने इस पर आपत्ति जताते हुए बयान को गलत बताया। सिंधु नदी मामलों के भारतीय आयुक्त प्रदीप कुमार ने कहा था कि पड़ोसी देश का दावा बेबुनियाद है। नदी का प्रवाह सामान्य है और उसमें कोई खास बदलाव नहीं दिख रहा है।