समाचार
दिग्विजय सिंह को बागी विधायकों से नहीं मिलने दिया तो धरने पर बैठे, अब हिरासत में

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह बागी विधायकों से मिलने के लिए बुधवार सुबह बेंगलुरु पहुँच गए। जिस होटल में विधायक ठहरे हुए थे, उसमें जाने की उन्हें इजाज़त नहीं दी गई तो वह धरने पर बैठ गए। पुलिस ने उन्हें वहाँ से हटाने की कोशिश की और उसके बाद एहतियातन रूप से हिरासत में ले लिया।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, होटल में मध्य प्रदेश के कांग्रेस के 21 बागी विधायकों को ठहराया गया है। दिग्विजय सिंह ने कहा, “पुलिस जानबूझकर मुझे अपनी पार्टी के विधायकों से मिलने से रोक रही है।”

उन्होंनें आगे कहा, “मैं मध्य प्रदेश से राज्यसभा का उम्मीदवार हूँ। 26 मार्च को मतदान होना है। मेरे विधायकों को धमकाकर होटल में रखा गया है और मिलने से रोका जा रहा है। वे मुझसे बात करना चाहते हैं। उनके फोन तक छीन लिए गए हैं। पुलिस मुझे यह बोलने भी नहीं दे रही है कि विधायकों के लिए सुरक्षा खतरा है।”

इससे पूर्व, मंगलवार को बागी कांग्रेसी विधायकों ने पत्रकारों से कहा था, “वे कमलनाथ की कार्यशैली से बिल्कुल खुश नहीं हैं। ज्योतिरादित्य सिंधिया हमारे नेता हैं। हम भोपाल लौटने के लिए तैयार हैं लेकिन हमें केंद्रीय सुरक्षा दी जाए। हम यहाँ अपनी मर्जी से आए हैं। हमें किसी पार्टी ने बंधक नहीं बनाया है।”

उन्होंने ये भी कहा, “ज्योतिरादित्य सिंधिया के कांग्रेस छोड़ने के बाद उन पर हमला हो सकता है। वह जब सुरक्षित नहीं तो हम कैसे होंगे। मुख्यमंत्री कमलनाथ के पास हमारी बात सुनने तक का वक्त नहीं है। अब हम भाजपा में शामिल होने पर विचार कर रहे हैं।”