समाचार
ईपीसीए का दिल्ली व एनसीआर में 15 अक्टूबर से डीजल जनरेटर के उपयोग पर प्रतिबंध

दिल्ली और एनसीआर में प्रदूषण के बढ़ते खतरे का मुकाबला करने के लिए पर्यावरण प्रदूषण (रोकथाम और नियंत्रण) प्राधिकरण (ईपीसीए) ने सोमवार को डीजल जनरेटर सेट के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, यह प्रतिबंध 15 अक्टूबर को फरीदाबाद, गाजियाबाद, गुरुग्राम, नोएडा, सोनीपत, बहादुरगढ़, पानीपत और ग्रेटर नोएडा शहरों में लागू होगा। ध्यान देने वाली बात यह है कि ईपीसीए ने पिछले साल ही दिल्ली में डीजल जनरेटर सेट के उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया था।

सोमवार को जारी आदेश के अनुसार, डीजल जनरेटर सेटों के उपयोग की अनुमति केवल हाउसिंग सोसायटियों को ही होगी।

ईपीसीए ने ग्रेडेड रिस्पॉन्स एक्शन प्लान (जीआरएपी) के तहत यह निर्णय लिया है। जीआरएपी के तहत लिए गए अन्य निर्णयों में यांत्रिक सफाई व सड़कों पर छिड़काव, दिल्ली मेट्रो और बस सेवाओं की आवृत्ति में वृद्धि, कोयले और जलाऊ लकड़ी के उपयोग पर होटल व अन्य जगहों पर तत्काल रोक शामिल हैं।