समाचार
डीजीसीए कोविड दिशा-निर्देशों का पालन ना करने पर हवाई यात्रियों पर लगाएगा जुर्माना

नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कड़े निर्देश जारी करते हुए हवाई अड्डों से कहा कि जो यात्री कोविड-19 के दिशा-निर्देशों के मुताबिक मास्क नहीं लगाते हैं और सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं करते हैं, उन पर मौके पर जुर्माना लगाने का विचार करना चाहिए।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, डीजीसीए ने एयरलाइंस को अचानक जाँच करने का निर्देश भी दिया है। इस दौरान देखा जाएगा कि कंपनियाँ और यात्री कोरोना के नियमों का कितना पालन कर रहे हैं। अगर एयरलाइंस विमान के अंदर नियमों का पालन नहीं करवा पाती हैं तो उन पर जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

डीजीसीए के नियमों के अनुसार, उड़ान रवाना होने से पहले यात्री कहे कि वह गाइडलाइंस का पालन नहीं करेगा, तो उसे विमान से उतार दिया जाए। बार-बार चेतावनी के बाद भी यात्री के न मानने पर एयरलाइन उसे अनियंत्रित यात्री मानकर उसके खिलाफ कार्रवाई करे। इस दौरान कोई गलत भाषा का उपयोग करे तो उसे तीन महीने के लिए उड़ान से प्रतिबंधित किया जा सकता है। क्रू मेंबर पर हमले के लिए छह और जान का खतरा पैदा करने पर दो या उससे अधिक वर्ष के लिए यात्री को उड़ान से प्रतिबंधित किया जा सकता है।

इसके अतिरिक्त अरोग्य सेतु मोबाइल ऐप होना जरूरी, एयरपोर्ट पर प्रवेश से पूर्व तापमान की जाँच, बोर्डिंग पास के बिना प्रवेश की अनुमति नहीं, मास्क सही से पहनना होगा, कई राज्यों में यात्री को आरसीपीसीआर टेस्ट की रिपोर्ट देनी होगी। उतरने की लिए आपकी लाइन की घोषणा हो, तभी उतरना होगा ।