समाचार
विमानन बिचौलिए को बलपूर्वक यूएई से भारत लाने पर न्यायालय ने ईडी से मांगी सफाई

दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार (5 फरवरी) को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को एक नोटिस जारी कर विमानन बिचौलिए दीपक तलवार, जिन्होंने दावा किया है कि उन्हें अवैध तरीके से भारत लाया गया है, की याचिका पर प्रतिक्रिया देने को कहा है, द हिंदू  ने बताया।

पिछले सप्ताह तलवार को यूएई से भारत लाया गया था। उनके सलाहकार मुकुल रोहतगी का कहना है कि यह एक वैधानिक प्रत्यर्पण नहीं था। “भारत सरकार ने मेरे मुवक्किल का अपहरण किया है। 4 फरवरी को प्रस्तुत होने के लिए फन्हें बुलावा था लेकिन कोई प्रत्यर्पण के बिना, वे उन्हें उठाकर ले गए।”, रोहतगी ने तर्क किया।

अगली सुनवाई से एक दिन पहले, 11 फरवरी तक ईडी को इस याचिका पर प्रतिक्रिया देने के लिए कहा गया है। ईडी का मानना है कि तलवार ने विदेसी एयरलाइनों की सहायता कर एयर इंडिया को हानि पहुँचाई है।

एजेंसी का दावा है कि उनसे पूछताछ कर नागरिक विमानन मंत्रालय, राष्ट्रीय भारतीय विमानन कंपनी लिमिटेड और एयर इंडिया के सम्मिलित अधिकारियों के विषय में जानकारी मिलेगी। ईडी का मानना है कि तलवार के नियंत्रण में कतर एयरवेज़, एमिरेट्स और एयर अरबिया से 6 करोड़ डॉलर से अधिक की राशि का हस्तांतरण 23 अप्रिल 2009 और 6 परवरी 2009 के बीच हुआ।