समाचार
डेरा प्रमुख राम रहीम को बीमार माँ से मिलने के लिए गुपचुप दी गई एक दिन की पेरोल

हरियाणा के डेरा सच्चा सौदा का मुखिया गुरमीत राम रहीम दुष्कर्म और हत्या के मामले में आजावीन कारावास की सजा काट रहा है लेकिन 24 अक्टूबर को उसको गुपचुप तरीके से एक दिन की पेरोल दे दी गई। अब इसकी जानकारी सार्वजनिक हो गई है, जिससे कई तरह के सवाल उठ रहे हैं।

न्यूज़-18 की रिपोर्ट के अनुसार, कहा जा रहा है कि राम रहीम ने अपनी बीमार माँ से मिलने के लिए एक दिन की पेरोल मांगी थी, जो गुरुग्राम के एक अस्पताल में भर्ती है।

सूत्रों की मानें तो डेरा प्रमुख को सुनारिया जेल से गुरुग्राम अस्पताल भारी सुरक्षा के बीच ले जाया गया। वह 24 अक्टूबर को शाम तक माँ के साथ रहा था। इस दौरान हरियाणा पुलिस की तीन टुकड़ियाँ तैनात रहीं, जिसकी एक टुकड़ी में करीब 100 पुलिसकर्मी थे।

इस बाबत जेल मंत्री रणजीत सिंह चौटाला का कहना है, “राम रहीम को उसकी बीमार माँ से मिलने के लिए एक दिन की पेरोल दी गई थी। इसके लिए सारे नियमों का पालन किया गया। राम रहीम के विशेष मामले को देखते हुए अधिक समय की पेरोल देने के लिए सरकार और न्यायालय से अनुमति लेनी होती है।”

कहा जा रहा है कि हरियाणा के कुछ वरिष्ठ अधिकारियों को ही इसकी जानकारी थी। इससे पूर्व भी डेरा प्रमुख को पेरोल देने की बातें सामने आई हैं। राज्य सरकार का कहना है कि उसने पेरोल देने से मना कर दिया था। अब मामले पर इस पर कई तरह के सवाल उठाए जा रहे हैं।