समाचार
अरुणाचल विधायक को गोलियों से छलनी करने वाले विद्रोही समूह का सदस्य गिरफ्तार

एक संयुक्त अभियान में भारतीय सेना, असम राइफल्स और असम पुलिस ने विद्रोही समूह नेशनल सोशलिस्ट काउंसिल ऑफ नागालिम (एनएसएनएम-आईएम) के स्व-घोषित मेजर जनरल अबोलोम तंगखुल के सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया। माना जा रहा है कि वह अरुणाचल के विधायक तिरोंग अबो की हत्या में शामिल था।

एएनआई  की रिपोर्ट के अनुसार, रविवार सुबह तड़के सुरक्षा बलों ने संयुक्त अभियान में विद्रोही समूह एनएससीएन-आईएम लॉन्गिंग-चराइडो-मोन क्षेत्रों के एरिया कमांडर उप मेजर अनोक वांग्सा को पकड़ लिया।

आधिकारिक रूप से जारी बयान में कहा गया, “लगभग सुबह 3.30 बजे टीमों में से एक ने नामटोला-जम्पन एक्सिस जा रही गाड़ी को रोका और उसमें बैठे व्यक्ति को पकड़ लिया। तलाशी के दौरान वाहन में छुपाए गए हथियार और गोला-बारूद बरामद किए गए।”

पूछताछ में वांगसा ने पुष्टि की कि उसने असम-नागालैंड सीमा के पास स्थित अपने घर में ज्यादा मात्रा में हथियार, गोला बारूद छुपाकर रखे हैं। उसके घर की तलाशी में युद्ध के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले बड़ी मात्रा में हथियार, गोला-बारूद, एक एके-56 राइफल, कई पिस्तौल और 5 लाख रुपये से अधिक नकद बरामद किए गए।

10 मई 2019 को अरुणाचल के खोंसा पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र से नेशनल पीपुल्स पार्टी के विधायक तिरोंग अबो को आतंकवादियों ने 10 अन्य लोगों के साथ मार दिया था।