समाचार
महिलाओं का बढ़ा वर्चस्व, नौसेना युद्धपोत के साथ राफेल स्क्वाड्रन में हो रही तैनाती

लिंग-समानता को साबित करने वाले एक कदम के रूप में सब-लेफ्टिनेंट कुमुदिनी त्यागी और रिति सिंह को नौसेना के युद्धपोत पर क्रू के रूप में तैनात किया जाएगा। वे ऐसा करने वाली पहली महिला अधिकारी होंगी। इसी तरह लड़ाकू विमान की एक महिला पायलट को राफेल स्क्वाड्रन में शामिल करने की तैयारी की जा रही है।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, फाइटर पायलट को भारतीय वायु सेना की 10 वर्तमान सक्रिय महिला फाइटर पायलटों में से चुना गया है। वह वर्तमान में मिग -21 बाइसन से राफेल उड़ाने के लिए प्रशिक्षण ले रही हैं।

एमओएस डिफेंस सुभाष भामरे ने पिछले सप्ताह संसद में टिप्पणी की थी कि रणनीतिक योजनाओं और परिचालन आवश्यकताओं के अनुसार आईएएफ में महिला लड़ाकू पायलटों को शामिल किया गया और उनकी तैनाती की गई है।

उधर, कुमुदिनी त्यागी और रिति सिंह नौसेना के मल्टी-रोल हेलीकॉप्टरों में लगे सेंसरों को ऑपरेट करने का प्रशिक्षण ले रही हैं। कहा जा रहा है कि दोनों युवा महिला अधिकारी नए एमएच-60 आर हेलीकॉप्टरों में उड़ान भरेंगी, जिन्हें अत्याधुनिक हेलीकॉप्टर माना जाता है।