समाचार
एनएसयूआई ने डीयू में वीर सावरकर की प्रतिमा पर कालिख पोती और जूते की माला पहनाई

कांग्रेस के छात्र संगठन नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के नेताओं ने दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में वीर सावरकर की प्रतिमा पर कालिख पोत दी और उसे जूतों की माला पहनाई।

इंडिया टुडे की रिपोर्ट के अनुसार, कहा जा रहा है कि यह घटना बुधवार और गुरुवार (22 अगस्त) की मध्य रात्रि को हुई थी। इस घटना को करीब 20 एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने अंजाम दिया था। बाद में उन्होंने ट्विवटर पर अपने द्वारा किए गए कार्यों की पुष्टि की थी।

इस प्रतिमा की स्थापना सोमवार रात को एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने भगत सिंह और नेताजी सुभाष चंद्र बोस की प्रतिमाओं के साथ की थी। दिल्ली विश्वविद्यालय प्रशासन से एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने स्थापना के लिए कई बार अनुरोध किया था लेकिन अनुमति नहीं दी गई थी।

प्रतिमा लगाए जाने के बाद एनएसयूआई ने भगत सिंह और नेताजी के साथ सावरकर की प्रतिमा को स्थापित करने से रोकने का विरोध जताया था। साथ ही कहा था कि विश्वविद्यालय प्रशासन के कथित तौर पर गैर जिम्मेदाराना रवैया अपनाने की वजह से यह मामला उन्हें खुद अपने हाथ में लेना होगा।

घटना के बाद अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने एनएसयूआई की निंदा की और घटना को जघन्य अपराध बताया।