समाचार
गूगल को दिल्ली पुलिस ने भेजा नोटिस, पूछा- साझा करें कि कहाँ से अपलोड हुआ टूलकिट

दिल्ली पुलिस ने गूगल को टूलकिट मामले को लेकर नोटिस भेजा है। पुलिस ने पूछा है कि यह दस्तावेज़ किस जगह से अपलोड किए गए और इनके पीछे कौन शामिल हैं। उन्होंने गूगल को इसकी जानकारी साझा करने को कहा है।

अमर उजाला की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि गूगल से जवाब मिलने के बाद यह साफ हो पाएगा कि टूलकिट कहाँ से अपलोड की गई थी और कैसे इसका विस्तार हुआ। इसके बाद तय हो जाएगा कि कौन आरोपी इसके पीछे छिपा हुआ है।

बता दें कि दिल्ली पुलिस ने 4 फरवरी को सोशल मीडिया में टूलकिट के प्रसार को लेकर देशद्रोह व आपराधिक षड्यंत्र रचने का मामला दर्ज किया था। दिल्ली पुलिस के विशेष आयुक्त (अपराध) प्रवीर रंजन ने साफ किया था कि ग्रेटा थनबर्ग के खिलाफ कोई मामला दर्ज नहीं किया गया। उनकी कोई भूमिका भी नहीं सामने आई है।

उन्होंने आगे कहा था, “प्राथमिकी में किसी को भी नामजद नहीं किया गया है। प्राथमिकी टूलकिट बनाने वाले के खिलाफ दर्ज की गई है। ग्रेटा ने टूलकिट को ट्वीट किया था पर बाद में उसे डिलीट भी कर दिया था।”