समाचार
शेहला रशीद पर दिल्ली पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा, सेना को बदनाम करने का आरोप

दिल्ली पुलिस ने कश्मीरी राजनेत्री और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्र संघ की पूर्व नेत्री शेहला रशीद के खिलाफ भारतीय सेना को बदनाम करने के मकसद से फर्जी ट्वीट पोस्ट करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है।

सर्वोच्च न्यायालय के वकील अलख आलोक श्रीवास्तव की शिकायत के बाद एफआईआर दर्ज की गई है।

शेहला रशीद ने सशस्त्र सीमा बलों के जवानों पर कश्मीर घाटी के लोगों को यातना देने, घरों में तोड़फोड़ करने जैसे माध्यसमों से प्रताड़ित करने का आरोप लगाया था।

शेहला पर मुकदमा भारतीय दंड संहिता 124ए (राजद्रोह), 153ए (किसी समुदाय की धर्म, जाति पर हमला करना), 153 (दंगा भड़काने की कोशिश), 504 (शांति भंग करने की कोशिश) और 505 (सार्वजनिक उपद्रव को भड़काने वाले बयान) के तहत दर्ज किया गया है।

यह पहली बार नहीं है कि शेहला कथित रूप से फर्जी खबरें फैलाने के आरोप में पुलिस की गिरफ्त में आई हों। इससे पूर्व, फरवरी में देहरादून पुलिस ने भी उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। शेहला ने दावा किया था कि शहर में कश्मीरी छात्राएँ अपने छात्रावास में भीड़ के हमले में फंस गई थीं। हालाँकि, बाद में उन्होंने स्पष्ट किया कि ऐसी कोई घटना नहीं हुई थी।