समाचार
दिल्ली पुलिस 916 विदेश जमातियों के खिलाफ आरोप-पत्र दायर करने की तैयारी में

दिल्ली पुलिस 916 विदेश तबलीगी जमातियों के खिलाफ आरोप-पत्र दायर करने की तैयारी कर रही है। इन पर वीज़ा नियमों के उल्लंघन का आरोप है। सभी विदेशी जमातियों के पासपोर्ट और अन्य दस्तावेज़ जब्त किए जाएँगे। इन पर पर्यटक वीज़ा के जरिए भारत आने के बाद धार्मिक गतिविधियों में शामिल होने का आरोप लगा है।

न्यूज-18 की रिपोर्ट के अनुसार, सभी विदेशी तबलीगी जमातियों से पूछताछ की जा चुकी है। कई ने कहा है कि वे मर्कज के मौलाना मोहम्मद साद के कहने पर 20 मार्च के बाद भारत में रुके थे। इन सभी विदेशी जमातियों का क्वारंटीन रहने का वक्त पूरा हो चुका है। सबको अलग-अलग जगहों पर रखा गया है।

दिल्ली पुलिस ने इन विदेशी जमातियों के पासपोर्ट और यात्रा दस्तावेज़ ले लिए हैं। पुलिस पूछताछ में यह जानना चाहती है कि उन्होंने किस आधार पर वीज़ा लिया था। अधिकतर जमाती पर्यटक वीज़ा पर देश में आए थे। इसके बाद वे यहाँ पर मजहबी गतिविधियों में शामिल हो गए और वीज़ा नियमों का उल्लंघन किया।

सूत्रों की मानें तो निज़ामुद्दीन में हुई धार्मिक सभा के मामले में दिल्ली क्राइम ब्रांच ने मौलाना साद के पाँच करीबियों के पासपोर्ट जब्त कर लिए हैं। इन पर पहले से ही एफआईआर दर्ज की जा चुकी है। मामले की जब तक जाँच चल रही है, तब तक कोई भी आरोपी देश छोड़कर नहीं जा सकता है।

बता दें कि मार्च में दिल्ली के निज़ामुद्दीन मर्कज में हुई धार्मिक सभा में 67 देशों से 2041 जमातियों के अलावा देश के अलग-अलग राज्यों से भी जमाती आए थे। यह सभा तब आयोजित की गई, जब राजनीतिक आयोजनों और लोगों की भीड़ एकत्रित करने पर रोक लगी हुई थी।