समाचार
दिल्ली पुलिस कॉन्सटेबल की चोटों के कारण मृत्यु, प्रदर्शनकारियों की आगजनी से तनाव

राजधानी क्षेत्र के गोकुलपुरी में दिल्ली पुलिस के एक हेड कॉन्सटेबल की सोमवार (24 फरवरी) को माथे पर लगी चोटों के कारण मृत्यु हो गई, ज़ी न्यूज़  ने रिपोर्ट करते हुए सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) से इस बात की पुष्टि की। कॉन्सटेबल रतन लाल की मृत्यु पत्थरबाज़ी के कारण हुई।

कहा जा रहा है कि दिल्ली के मौजपुरी में सीएए समर्थक व विरोधी गुटों के बीच पत्थरबाज़ी हुई। आँसू गैस से भीड़ को विसर्जित करने का प्रयास किया गया लेकिन अभी भी सैंकड़ों लोग सड़कों पर हैं व बदमाश तत्वों ने कुछ घरों पर भी पत्थरबाज़ी की।

झड़प में शहादरा डीसीपी समेत कई पुलिसकर्मी भी घायल हो गए हैं। हिंसा की घटना के बाद दिल्ली के पूर्वोत्तर जिले में 10 स्थानों पर धारा 144 लागू कर दी गई है, एबीपी लाइव  ने रिपोर्ट किया।

इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने जाफराबाद और मौजपुर में कम से कम दो घरों में आग लगा दी है जिससे तनाव और बढ़ गया। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सांति बहाल करने की अपील एलजी और केंद्रीय गृह मंत्री से की।